श्री कृष्णा कड़वेकर, अध्यक्ष और मण्डीदीप के महाजनों की महानता

Total Views : 279
Zoom In Zoom Out Read Later Print

भोपाल। पवार वैभव संगठन, मंडीदीप का एक अप्रतीम,आश्चर्यचकित कर देने वाला कदम। सभी प्राइवेट फर्म में काम करने वाले। अपने जज्बे, जोश और जूनून से बनाये 65 फ़ीट ऊँचा श्रीराम जानकी मंदिर। कम आय पर बड़ा काम। सीखने की बात। देने का जज्बा इंसान को बड़ा बनाता है।

श्री कृष्णा कड़वेकर, अध्यक्ष और मण्डीदीप के महाजनों की महानता-

पवार वैभव संगठन, मंडीदीप  के 61 सदस्यों ने ग्रहण की संजीवन सदस्यता -

"राष्ट्रीय भर्तृहरि -विक्रम -भोज पुरस्कार"  के लिए  संजीवनी है यह पहल -

भोपाल। पवार वैभव संगठन, मंडीदीप  का एक अप्रतीम,आश्चर्यचकित कर देने वाला कदम। सभी प्राइवेट फर्म में काम करने वाले।  अपने जज्बे, जोश और  जूनून से बनाये 65 फ़ीट ऊँचा श्रीराम जानकी मंदिर। कम आय पर बड़ा काम। सीखने की बात। देने का जज्बा इंसान को बड़ा बनाता है। धन, दौलत या पद नहीं। यह साबित कर दिखाया गया है मंडीदीप के महाजनों द्वारा। धन से कम पर मन से अधिक समृद्ध महाजनों का यह सराहनीय प्रयास सभी संगठनों के लिए मिसाल बनेगा,ऐसी आशा है। 

श्री कृष्णा कडवेकर अध्यक्ष पवार वैभव संगठन मंडीदीप द्वारा  "राष्ट्रीय भर्तृहरि -विक्रम -भोज पुरस्कार" की न केवल संस्थापक सदस्यता (रु 11,000 ) ग्रहण की गई, अपितु अपने संगठन के 61 सदस्यों को संजीवन सदस्यता दिलाकर समाज के प्रति अपना प्रेम और समर्पण भी दिखाया गया।  आपके इस कदम से "राष्ट्रीय भर्तृहरि -विक्रम -भोज पुरस्कार" के 500 सदस्य बनाने वाले अभियान और लक्ष्य को संजीवनी प्राप्त हो गयी है। 

श्री कृष्णा कडवेकर अपने इन समाज प्रेमी महाजनों के माध्यम से "राष्ट्रीय भर्तृहरि -विक्रम -भोज पुरस्कार" का आयोजन यदि मंडीदीप में करा दे तो कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी। भगवान राम ने भी अपने स्थानीय संसाधनों के बल पर ही तो रावण की लंका जीती थी। उन्होंने कहाँ अयोध्या या जनकपुरी से सेना मंगाई थी। 

बहरहाल ,मंडीदीप के इन महाजनों की महानता की प्रशंसा जितनी की जाए कम है।  श्री कृष्णा कडवेकर द्वारा संस्थापक सदस्य्ता राशि रु 11000  का एक चेक और दूसरा 61 सदस्यों की संजीवन सदस्य्ता राशि रु 6100  का चेक जमा कराया गया। आप सभी सम्मानीय सदस्यों के स्वस्थ, सुखी, संपन्न जीवन की कामना के साथ आप सभी सदस्यों का समूह में स्वागत ,अभिनन्दन।


आपका "सुखवाड़ा"ई -दैनिक और मासिक।

See More

Latest Photos